www.kayastha.astha.net

HomeKayastha Matrimonial |  NEWS  |  Chitragupta Pooja  |  Bhai-Dooj Pooja  | Surname   |  Origin  |  Kayastha Directory  |  All Sabha  |  Arti  |   Chitragupta Photos  |  Encyclopedia  Shrivastava Jyotish      Facebook > Kayastha Group  |  Kayastha Page  |  Dr. Adarsh Shrivastava 9981704810

 

चित्रगुप्त पूजा विधि, पूजा समान


पूजा सामग्री
चन्दन पेस्ट, तिल, कपूर, पान, सुपाड़ी, शक्कर, पेन, पेपर, इंक, गंगा जल, धान, रुई, शहर, पिली सरसों, धुप, दही, मिठाई, एक कपड़ा, दूध, फल, पंचपात्र, गुलाल, तुलसी, रोली, केसर, माचिस.
पूजा विधि
सबसे पहले पूजा वाले स्थान को अच्छे से साफ कर लें.
चित्रगुप्त जी की प्रतिमा या फोटो को सबसे पहले पानी से फिर गुलाब जल से साफ करें. इसे उसके बाद फिर एक बार पानी से स्नान कराएँ.
इसके बाद चित्रगुप्त जी के पास घी का दीपक जलाएं. 5 समान को मिलाकर पंचमित्र बनायें, इसमें दूध, दही, घी, शक्कर और शहद मिलाएं.
मिठाई, फलों को प्रसाद में चढ़ाएं.
फूलों की माला चढ़ाएं. अबीर, सिंदूर, हल्दी लगायें.
अगरबत्ती जलाएं. चित्रगुप्त जी की कथा पढ़ें. इसके बाद आरती करें.
प्लेन पेपर में रोली-घी मिलाकर स्वस्तिक बनायें. इसमें नए पेन से 5 भगवान के नाम लिखें.
इसके बाद इसमें मन्त्र लिखें और फिर अपना नाम, पता, तारीख, आय-व्यय लिखें.
इसके बाद कागज को मोड़ कर चित्रगुप्त जी के सामने रख दें ।
चित्रगुप्त पूजा कायस्थ समुदाय के द्वारा की जाती है, जो विश्व शांति, न्याय, ज्ञान और साक्षरता में विश्वास रखता है. इस पूजा को दवात पूजा भी कहा जाता है, जहाँ कागज, पेन की पूजा की जाती है, इसे कायस्थ लोग अध्ययन का प्रतीक मानते है. घर में कमाने वाले सदस्य अपनी आय चित्रगुप्त जी के सामने लिखते है, और घर चलाने के लिए जितने खर्च की जरूरत रहती है उसे भी लिखते है, ताकि अगले साल उनकी आय में इजाफा हो सके. चित्रगुप्त जी से वे समृधि की प्राथना करते है |

# Chitragupta Maharaj Puja Vidhi

Astha.Net Kayastha Matrimony   chitransh kayastha Parisad   Akhil Bhartiye Kayastha Mahasabha Jabalpur    Chitragupta Sena     Akhil Bhartiye Kayastha Mahasabha Rohtak    CG Kayastha